आरक्षण नहीं, तो कोयला-लोहा भी नहीं-हेमन्त सोरेन

धनबाद, छत्तीसगढ़ (Dhanbad, Chhattisgsrh)। मुख्यमंंत्री हेमंत सोरेन (CM Hemant Soren) ने जेएमएम (JMM) के 48वें स्थापना दिवस समारोह में केंद सरकार (Central Government) पर बड़ा हमला बोला। उन्होंने कहा कि केंद्र की सरकार रेल, बीएसएनएल, एलआईसी जैसी कई सरकारी कंपनियों को बेचने में लगी है। इस हालात में संविधान में जो आरक्षण का लाभ दिया गया है, वह स्वतः समाप्त हो जाएगी। केंद्र सरकार को यह चेतावनी देना चाहते हैं कि झारखण्ड के मूलवासी और आदिवासी के हक व अधिकार को छीनने नहीं देंगे। वे अगर डाल-डाल हैं, तो हम पात-पात हैं। (Reservation) नहीं, तो इस राज्य से कोयला, लोहा भी बाहर नहीं जाने देंगे। जमीन भी नहीं देंगे। मुख्यमंत्री ने कहा कि सड़क निर्माण के नाम पर धनबाद में बड़े पैमाने पर जमीन का घोटाला हुआ है। वैसे सरकारी पदाधिकारी जेल जाने की तैयारी कर लें। इस राज्य में वैसे पदाधिकारी भी हैं, जो वर्षों से राज्य को लूटते आये हैं। वैसे पदाधिकारी को भी हमें चिन्हित करना है। मुख्यमंत्री ने कहा कि कोयलांचल में कोल कंपनियां कोयले के नाम पर झारखंडियों की जमीनें लेती रही हैं। लेकिन जमीन के बदले उन्हें नियोजन और मुआवजा तक नहीं मिला। इसके अलावा सरकारी जमीनें भी कोल कंपनियों के द्वारा कोयले के नाम पर ली गईं। लेकिन उसके एवज में सरकार को कोई मुआवजा नहीं दिया जाता, अब ऐसा नहीं चलेगा। सरकार की जमीन लेने पर सरकार को मुआवजा देना पड़ेगा, नहीं तो खदानें बंद कर देंगे। रैयतों की जमीन लेने पर उन्हें रोजगार देना अनिवार्य करना होगा। मंगलवार की रात धनबाद के गोल्फ मैदान में जेएमएम का स्थापना दिवस मनाया गया. इसमें सीएम हेमंत सोरेन, पार्टी अध्यक्ष शिबू सोरेन पार्टी के कई दिगग्ज नेता शरीक हुए. इस दौरान रघुवर सरकार पर हमला बोलते हुए सीएम ने कहा कि रघुवर सरकार की लूट-खसोट के कारण राज्य का खजाना खाली हो गया है। इससे पहले दुमका में जेएमएम का स्थापना दिवस मनाया गया था।







(साभार न्यूज़ 18 हिन्दी)