क्या भाजपा सरकार 2021 में गिर सकती है ??

अलीगढ़, उत्तर प्रदेश (Aligarh, Uttar Pradesh), 1 फ़रवरी 2020। क्या 2021 में भाजपा सरकार अल्पमत में आ सकती है और कुछ ख़बरों के मुताबिक  बिहार के विधानसभा के चुनाब के बाद सरकार गिर भी सकती है, कैसे?भाजपा के के अन्दर ही सीएए बिल का बहुत भारी विरोध हो रहा है। कुछ पुराने भाजपा नेता इस बिल को अमित शाह कि सिर्फ ज़िद्द बता रहे हैं। एक बहुत ही पुराने औऱ वरिष्ठ भाजपा के नेता के अनुसार प्रधानमंत्री मोदी भी इसके समर्थन में नहीं हैं। भाजपा में 87 दलित सांसद हैं जो अंदर ही अंदर इस बिल का विरोध कर रहे हैं। सारे दलित सांसद सही समय का इंतज़ार कर रहे हैं। भाजपा के एक दलित सांसद तो बिहार से आते हैंं,  ने अपना नाम न बताने पर कहा है कि अगर भाजपा बिहार विधानसभा का चुनाब हार गई तो 87 दलित सांसद एक साथ इस्तीफ़ा दे सकते हैंं, अगर ये सच हो गया तो भाजपा सरकार अल्पमत में आ सकती है और सरकार गिर भी सकती है। सवाल ये की सारे दलित सांसद इस्तीफा क्यों देंगे ? भाजपा सरकार की जो छवि बनती जा रही वो दलित और गरीब विरोधी है। सांसदों को जनता के सामने जाने में बड़ी कठिनाई हो रही है। दलित की नाराजगी सांसद लेना नहीं चाहते हैं। औऱ सत्ता के गलियारों से खबर ये भी आ रही है कि सीएए और सरकार की नीतियों की बजह से भारत की छवि दुनिया भर में एक कट्टर राष्ट्र की बनती जा रही है। जिससे उद्योगपति बहुत नाराज हैं। व्यापार में रोज नई परेशानी आ रही है। कुछ बडे उद्योपतियों में रायशुमारी बनती जा रही है कि सरकार को हटाया जाय। गिरती अर्थव्यवस्था रोज नई परेशानी खड़ी कर रही है। अगर ऐसा हुआ तो ये सरकार 2 साल के अन्दर अपदस्थ हो सकती है।