यह नए दशक का दिवालिया बजट है - विशम्भर प्रसाद निषाद साँसद( राज्य सभा)

नई_दिल्ली (New Delhi), 1 फरवरी 2020। केंद्र सरकार के आज लोकसभा में पेश बजट पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए विशम्भर प्रसाद निषाद साँसद( राज्य सभा) ने कहा है कि यह नए दशक का दिवालिया बजट है। केंद्र के कर्मचारियों को वेतन देने के लिए केंद्र सरकार के पास  पैसा नहीं है, यही हाल राज्यों में है, कई कई महीनों से कर्मचारियो को  वेतन नहीं मिल रहा है। हर सेक्टर में केंद्र सरकार फेल है। इसीलिए जितने भी पिछले पाँच सालो में घोषणा की गई थी कोई भी पूरी नहीं हुई। स्मार्ट सिटी में आज तक एक भी शहर नहीं बना। बुलेट ट्रेन चली नहीं और अभी तक एक भी घोषणा पूरी नहीं हुई। नोट बन्दी, जीएसटी से देश की अर्थव्यवस्था की कमर टूट गयी है।   




     5 साल के अंदर जो सबसे ज्यादा रोजगार देने वाला रेलवे निजी हाथों में बेचा जा रहा है। एयर इंडिया बेचा जा रहा है। सरकारी उपक्रम निजी हाथों मे बेचें जा रहे हैं। लोगों को पिछले पाँच साल़ो में रोजगार मिलने के बजाय रोजगार घटे हैं। केवल आकडों बाजीगरी का झूठ का पुलिन्दा है बजट। देश का नौजवान किसान वजट से हताश निराश हुआ है। घाटे की खेती होने के कारण बुन्देलखण्ड मे किसान आत्महत्या कर रहा है। वजट में बुन्देलखंड के लोगों को निराश किया है।




Popular posts
आज संसद में विशम्भर प्रसाद निषाद जी ने फिर उठाया परिभाषित SC आरक्षण का मुद्दा : सदन नहीं चलने के कारण नहीं उठा सके आज
Image
विशम्भर प्रसाद निषाद जी द्वारा पाक जेलों में बन्द भारतीय मछुआरों के बारे में पूछे गए सवाल का जबाब 6 माह बाद लिखित में दिया मंत्री ने
Image
आज फिर विशम्भर प्रसाद निषाद जी का SC प्रमाण पत्र से सम्वन्धित सवाल राज्यसभा में हंगामे की भेंट चढ़ गया
Image
25 जुलाई को वीरांगना फूलन देवी शहादत दिवस पर उत्तर प्रदेश के हज़ारों गांव से निषाद बिन्द कश्यप समाज ने भेजे परिभाषित आरक्षण लागू कराने के लिए महामहिम राष्ट्रपति जी को ऑनलाइन ज्ञापन
Image
2 दिवसीय दौरे पर फतेहपुर रहेंगे सांसद विशम्भर प्रसाद निषाद जी
Image