डायल 112 पर शिकायत करना निषाद युवक को पड़ा भारी, पुलिस ने थाने में है बेल्ट से जमकर लगाई मार

तरबगंज, गोण्डा, उत्तर प्रदेश (Tarabganj, Gonda, Uttar Pradesh), एकलव्य मानव संदेश (Eklavya Manav Sandesh) रिर्पोटर बद्री निषाद की रिपोर्ट, 5 मार्च 2020। 112 नम्बर पर शिकायत करने वाले युवक को ही थाने में जमकर बेल्ट से पीटा। मार से सहमा युवक मुख्यमंन्त्री के दरबार में करेगा न्याय के लिए फरियाद।       गोण्डा जिले के तरबगंज थाना क्षेत्र के एक युवक को 112 नम्बर पर शिकायत करना भारी पड़ गया। मौके पर पहुँची डायल 112 पुलिस ने पीड़ित को ही लाकर थाने में बन्द कर दिया जहाँ  अबैध बालू खनन की शिकायत के कारण पहले से ही खार खाऐ थाने के दरोगा, सिपाही पीड़ित युवक पर टूट पड़े और बेल्ट से मारने लगे। युवक पूछता रहा क्यों मार रहे हो साहब तो, कहा तुम बहुत शिकायत करते हो। इतना मारुंगा कि शिकायत करना दूर किसी काम के लायक नहीं रहोगे। इस तरह पुलिस की कार्यवाही से सहमा युवक मुख्यमंत्री से करेगा न्याय की गोहार।


   पुलिस की कहानी पीड़ित की जुबानी पढ़े पूरी खबर।


बताते चले की गोण्डा जिले के तरबगंज थाना क्षेत्र के ग्रामसभा सेझिया निवासी सुखदेव निषाद पुत्र श्रवन निषाद ने बताया की साहब हमारेजमीन पर विपक्षी जगदीश व रामनाथ पुत्र स्वामीनाथ छप्पर रख रहे थे जब पूछा तो मारपीट करने लगे, जिसकी सूचना डायल 112 को दी मौके पर पहुँची डायल 112 ने हमको ही लाकर थाने के लाकप में बन्द कर दिया। उसके बाद पहुँचे थाने के दरोगा विनय पाण्डेय व सिपाही सुरेश मिश्रा कहने लगे तू शिकायत बहुत करता है। बीस हजार दो तुम्हारा छप्पर रख जायगा। पिडित गरीबी की दुहाई देने लगा तो सिपाही सुरेश मिश्रा ने कहा कि अभी इसकी शिकायत निकाल देते हैं और हाथ पकड़कर बेल्ट से मारने लगे। हमने पूछा साहब क्यों मार रहे हो, तो कहने लगे की तुम बालू खनन की शिकायत बहुत करते हो। सारी शिकायत अभी निकाल देता हूँ और बेल्ट से मारते रहे। जबकि हमारी कोई गलती नही है और विपक्षी का छप्पर भी हमारी जमीन में रखवा दिए। जिससे मैं बहुत परेशान हूँ। इस पुलिसिया कार्यवाही की शिकायत मुख्यमंत्री से करुँगा।


सरकार के लाख प्रयास करने के बाबजूद पुलिस सुधरने का नाम नहीं लेरही है। और दिनोदिन बेलगाम होती जारही है। सुधरे भी कैसे, अबैध कमाई का जरिया जो बना हुआ है।जिसका शिकार गरीब व कमजोर तबके के लोग होरहे है।जिनका खुलेआम शोषण कर रही है पुलिस और समाचार के लिए वीडियों देखे।


क्या कहते हैं जिम्मेदार।


(https://youtu.be/Du3bItDZZjY)


थानाध्यक्ष तरबगंज से सम्पर्क करने की कोसिस की गयी लेकिन सम्पर्क नहीं हो पाने के कारण उनका पक्ष नही जाना जासका।


Popular posts
17 अतिपिछड़ी जातियों के अनुसूचित जाति के आरक्षण के प्रस्ताव को मोदी सरकार ने बताया था असंवैधानिक : योगी सरकार ने आज तक नहीं की कोई पहल
Image
अयाह शाह विधानसभा सीट से मा. विशम्भर प्रसाद निषाद जी हैं 2022 के संभावित उम्मीदवार
Image
सांसद मा. विशम्भर प्रसाद निषाद जी ने अपनी सांसद निधि से बने बारात घर का रामपुर में किया उद्घाटन
Image
पूर्व मंत्री मनोहर लाल जी की प्रतिमा के अनावरण के माध्यम से 2022 के चुनाव जीतने के लिए अखिलेश यादव ने किया चुनाव अभियान का श्रीगणेश
Image
इस सप्ताह (30 अगस्त 2020) का एकलव्य मानव संदेश हिन्दी साप्ताहिक समाचार पत्र आपके लिए
Image