हम सभी प्रकार की धार्मिक कट्टरता का पुरजोर विरोध करते हैं

आओ ऐसे भारत की मजबूती के लिए आगे आएं, जिसमें न मनुस्मृति की बात हो और न ही शरीयत की बात हो, हर इंसान कीं तरक्की के लिए केवल भारत के संविधान की बात हो। जो मजहब आपस में वैर रखना सिखाता हो, वह भारत के संविधान का विरोधी है। हम सभी प्रकार की धार्मिक कट्टरता का पुरजोर विरोध करते हैं।


-एकलव्य मानव संदेश 


 


Popular posts
पैलानी खदान में टीला धंसने से 3 मजदूरों की मौत: विशम्भर प्रसाद निषाद ने 50-50 लाख के मुआवजे की मांग
Image
केवट, मल्लाह, निषाद जाति को झारखंड राज्य की अनुसूचित जाति में शामिल करने के प्रस्ताव को हेमंत सोरेन की झारखंड सरकार ने दी मंजूरी
Image
दर्दनाक: राजस्थान के पाली जिला में बंजारा विमुक्त घुमन्तु जनजाति के किसान को जिंदा जला दिया
Image
भाजपा की उल्टी गिनती शुरू: निषादों पर हुये प्रशासनिक अत्याचार के विरोध में निषाद कार्यकर्ताओं ने दिया सामूहिक रूप से त्यागपत्र
Image
बाँदा में हो रहे अवैध खनन और ओवरलोडिंग पर रोक लगाने के लिए राज्यसभा सांसद विशम्भर प्रसाद जी ने मुख्यमंत्री और राज्यपाल को लिखे पत्र
Image