लॉक डाउन के प्रतिबंधों का सख्ती से अनुपालन सुनिश्चित करने के लिए डीएम की अध्यक्षता में हुई बैठक

अलीगढ़, उत्तर प्रदेश, ब्यूरो रिपोर्ट। कोरोना वायरस को लेकर लॉक डाउन के प्रतिबंधों का सख्ती से अनुपालन सुनिश्चित करने के लिए डीएम की अध्यक्षता में हुई बैठक, एसएसपी व सीडीओ रहे मौजूद। संक्रमण को रोकने के लिए सोशल डिस्टेंसिंग अपनाने की पुरजोर अपील।


       डीएम श्री चंद्र भूषण सिंह ने कलेक्ट्रेट सभागार में कोरोना वायरस को लेकर लॉक डाउन के प्रतिबंधों का सख्ती से अनुपालन सुनिश्चित कराए जाने के निर्देश अधिकारियों को दिए हैं। उन्होंने लॉक डाउन की स्थिति में सभी आवश्यक वस्तुओं की उपलब्धता सुनिश्चित किए जाने और कालाबाजारी, मुनाफाखोरी, जमाखोरी करने वालों के खिलाफ आवश्यक वस्तु अधिनियम के तहत कड़ी कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं। डीएम ने सभी मजिस्ट्रेट्स को निर्देशित किया है कि वह प्रातः 6:30 से अपने-अपने क्षेत्रों में निरंतर भ्रमणशील रहकर यह सुनिश्चित करेंगे कि दुकानदारों व्यापारियों द्वारा रोजमर्रा वस्तुओं की कालाबाजारी, मुनाफाखोरी तो नहीं की जा रही है और यह भी सुनिश्चित किया जाए कि दवाओं की दुकानें पूर्णता खोली जाए, इसके साथ ही यह भी ध्यान रखें कि सामान लेने आए व्यक्ति सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कर रहे हैं या नहीं। उन्होंने कहा कि अफवाह फैलाने वालों पर भी कड़ी नजर रखी जाए। यदि कहीं से कोई भी व्यक्ति अफवाहों फैलाने में लिप्त पाया जाता है तो सम्बंधित के खिलाफ कड़ी कार्यवाही की जाय।      डीएम श्री चन्द्रभूषण सिंह और वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक श्री मुनिराज जी ने लॉक डाउन के दौरान अनाज, दालें, आटा,सब्जी, दूध, दवाइयां, एलपीजी सिलेंडर आदि रोजमर्रा की आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति को सुनियोजित एवं सुव्यवस्थित रखने तथा कोरोना वायरस के प्रभावी नियंत्रण हेतु माइक्रो प्लानिंग तैयार कर प्रभावी मैन पावर डेप्लॉयमेंट करने के भी निर्देश दिए। उन्होंने वार्ड वार मोहल्ला समितियां गठित करते हुए रोजमर्रा के लिए आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति सुनिश्चित करने के निर्देश दिए हैं।एसएसपी ने कहा है कि पुलिसकर्मियों को आवश्यकतानुसार डिप्लॉयमेंट किया गया है। वह दिए गए निर्देशों के क्रम में निरंतर भ्रमणशील रहकर एवं स्टैटिक होकर व्यवस्थाओं को बनाए रखने में दायित्वों का निर्वहन कर रहे हैं। उन्होंने कोरोना वायरस के संक्रमण के फैलाव को रोकने के लिए अपील करते हुए कहा कि बाहर से आवागमन कर रहे व्यक्तियों की शत शत शत स्क्रीनिंग की जाए। उन्होंने कहा कि लॉक डाउन की स्थिति में किसी को घबराने की ज़रूरत नही है, शासन प्रशासन द्वारा आपकी ज़रूरत की पूर्ति के लिए सभी प्रकार की तैयारियां की जा रहीं हैं। सीडीओ श्री अनुनय झा ने निर्देशित किया है कि लॉक डाउन की अवधि में जो श्रमिक घरों में बैठे हैं, लॉक डाउन की अवधि में उनको पूरा पारिश्रमिक दिया जाएगा।अन्यथा की दशा में डिजास्टर मैनेजमेंट एक्ट में दी गई सुसंगत धाराओं के तहत कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने बार बार भारत सरकार द्वारा दिए गए गाइडलाइन का हवाला देते हुए बताया कि प्राइवेट संस्थान, निजी फैक्ट्री, दुकानें, होटल आदि में कार्यरत श्रमिकों का पारिश्रमिक लॉक डाउन की अवधि में काटा नहीं जाएगा, जो प्रतिष्ठान बंद किए गए हैं, संबंधित अधिकारी उनकी सूची तैयार करें और 28 मार्च तक उनका पारिश्रमिक उनके बैंक खातों में आवश्यक रूप से पहुंचा दिया जाए । भुगतान के सम्बंध में उन्होंने यह भी कहा कि 28 मार्च की शाम को पुनः समीक्षा की जाएगी।


      बैठक में नगर आयुक्त, एडीएम सिटी, एडीएम प्रशासन, एडीएम वित्त व राजस्व, एसपी सिटी, एसपीआरए, एसपी ट्रैफिक, सीएमएस, सीएमओ, नगर मजिस्ट्रेट, परियोजना निदेशक, विभागीय अधिकारी, उद्यमी, व्यापारी, पार्षद आदि उपस्थित रहे। 
      देखिये वीडियो


(https://youtu.be/9ZWEmsWEWXA)


Popular posts
आज संसद में विशम्भर प्रसाद निषाद जी ने फिर उठाया परिभाषित SC आरक्षण का मुद्दा : सदन नहीं चलने के कारण नहीं उठा सके आज
Image
विशम्भर प्रसाद निषाद जी द्वारा पाक जेलों में बन्द भारतीय मछुआरों के बारे में पूछे गए सवाल का जबाब 6 माह बाद लिखित में दिया मंत्री ने
Image
आज फिर विशम्भर प्रसाद निषाद जी का SC प्रमाण पत्र से सम्वन्धित सवाल राज्यसभा में हंगामे की भेंट चढ़ गया
Image
25 जुलाई को वीरांगना फूलन देवी शहादत दिवस पर उत्तर प्रदेश के हज़ारों गांव से निषाद बिन्द कश्यप समाज ने भेजे परिभाषित आरक्षण लागू कराने के लिए महामहिम राष्ट्रपति जी को ऑनलाइन ज्ञापन
Image
पूरी जानकारी : कैसे भेजें 25 जुलाई 2021 को निषाद, कश्यप, बिन्द समाज की पुकारू जातियों के परिभाषित एससी आरक्षण लागू कराने के लिए राष्ट्रपति जी को ज्ञापन
Image