भाजपा की योगी सरकार को अमीरों के बच्चों की चिन्ता, कोटा भेजीं 300 बसें

एकलव्य मानव संदेश। भाजपा की योगी सरकार को अमीरों के बच्चों की चिन्ता, कोटा भेजीं 300 बसें। राजस्थान के कोटा में फंसे अमीरों के लगभग 8 हज़ार छात्रों को लेने के लिए उत्तर प्रदेश से 300 बसें रवाना की गई हैं।छात्रों को पहले आगरा और झांसी लाया जाएगा।  बसें शुक्रवार रात को ही कोटा से छात्रों को लेकर रवाना होंगी।
 बसें झांसी और बसें आगरा से रवाना हुईं, इन्हें कोटा में 6 अलग-अलग जगहों पर खड़ा किया जाएगा। सभी छात्रों के आज रात ही उत्तर प्रदेश लौट जाने की संभावना, आगरा-झांसी से उन्हें घर भेजने के इंतजाम किए जाएंगे। देशभर से अमीरों घरों के छात्र आईआईटी और मेडिकल प्रवेश परीक्षा की तैयारी करने कोटा आते हैं, अभी कोटा में 40 हजार छात्र हॉस्टल और पीजी में रह रहे हैं। 
    राजस्थान और यूपी सरकार ने गुरुवार को यह फैसला लिया है कि छात्रों के लिए शुक्रवार को झांसी और आगरा से रवाना की जाएंगी जो रात में ही छात्रों को लेकर रवाना हो जाएंगीं। ये बसें कोटा के 6 उन जगहों पर खड़ी की जाएंगी, जहां कई कोचिंग सेंटर हैं। यहां पहुंचने के लिए कोचिंग और प्रशासन छात्रों की मदद करेगा। एक बस में करीब 25 से 30 बच्चों को ले जाया जाएगा। इन्हें सबसे पहले झांसी और आगरा ले जाया जाएगा। इसके बाद सरकार इन्हें आगे ले जाने का प्रबंध करेगी।
     मध्य प्रदेश से भी छात्रों को लाने की योजना है। कोटा में देशभर से छात्र आईआईटी और मेडिकल की प्रवेश परीक्षा की तैयारी करने आते हैं। कोटा के अलावा यूपी सरकार मध्यप्रदेश में फंसे छात्रों को भी घर वापस लाने के लिए बातचीत कर रही है। बिहार के बच्चों के लिए भी वहां की सरकार से बात की जाएगी।


    बसों में मास्क, सैनिटाइजर, पानी और खाने की भी व्यवस्था की गई है। बच्चों को भेजने की पूरी व्यवस्था एडीएम प्रशासन एनके गुप्ता कर रहे हैं। उनके साथ पुलिस भी बच्चों को बसों तक लाने और शांति बनाए रखने में मदद करेगी।
  सरकार के इस अमीरों के बच्चों के लिए उठाये गए कदम पर सामजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने अपनी प्रतिक्रिया देते हुए कहा है- राजस्थान में फंसे विद्यार्थियों को  वापस लाना अच्छी बात है लेकिन अन्य राज्यो में भूखमरी का शिकार हो रहे गरीब मजदूरों को उ.प्र. लाकर सुरक्षित उनके घरो पहुचाने की जिम्मेदारी योगी सरकार की है।


Popular posts
आज संसद में विशम्भर प्रसाद निषाद जी ने फिर उठाया परिभाषित SC आरक्षण का मुद्दा : सदन नहीं चलने के कारण नहीं उठा सके आज
Image
विशम्भर प्रसाद निषाद जी द्वारा पाक जेलों में बन्द भारतीय मछुआरों के बारे में पूछे गए सवाल का जबाब 6 माह बाद लिखित में दिया मंत्री ने
Image
आज फिर विशम्भर प्रसाद निषाद जी का SC प्रमाण पत्र से सम्वन्धित सवाल राज्यसभा में हंगामे की भेंट चढ़ गया
Image
25 जुलाई को वीरांगना फूलन देवी शहादत दिवस पर उत्तर प्रदेश के हज़ारों गांव से निषाद बिन्द कश्यप समाज ने भेजे परिभाषित आरक्षण लागू कराने के लिए महामहिम राष्ट्रपति जी को ऑनलाइन ज्ञापन
Image
पूरी जानकारी : कैसे भेजें 25 जुलाई 2021 को निषाद, कश्यप, बिन्द समाज की पुकारू जातियों के परिभाषित एससी आरक्षण लागू कराने के लिए राष्ट्रपति जी को ज्ञापन
Image