कोरन्टीन सेंटर में रखे गए मजदूरों को न खाने की व्यवस्था की जा रही है और न ही सोने के व्यवस्था

कसया, कुशीनगर, उत्तर प्रदेश एकलव्य मानव संदेश रिपोर्टर अमरजीत, उत्कर्ष निषाद की रिपोर्ट।


   (देखें वीडियो https://youtu.be/ZPt-DwTS87w)


   ग्राम कुड़वा उर्फ दिलीपनगर टोला सीसई विकास खण्ड कसया थाना कसया तहसील कसया जिला कुशीनगर में ग्राम प्रधान कुशमा वती देवी द्वारा गांव में बनाये गए कोरन्टीन सेंटर में रखे गए मजदूरों को न खाने की व्यवस्था की जा रही है और न ही सोने के व्यवस्था। कुड़वा उर्फ दिलीपनगर में आठ कोरन्टीन सेन्टर बनाये गये हैं, जिनमें से केवल दो सेन्टर में ही मजदूर रह रहे हैं, बाकी छः सेन्टर में मजदूर नहीं है। शासन के स्पष्ट निर्देशों में मजदूरों के खाने पीने और सोने के लिए ग्राम प्रधान को अधिकृत किया गया है, लेकिन इसके लिए जब कोरन्टीन में रह रहे मजदूर ग्राम प्रधान कुशमा वती देवी से बात करते हैं तो वह उनको डरवाती और धमकी देती है। मजबूर होकर मजदूर अपने घर भागने को मजबूर और जो रह गए हैं वे भी अपने घर से मंगाए गए खाने के सहारे रह रहे हैं।


Popular posts
बड़ा खुलासा : पंचायत चुनाव में निषाद प्रत्याशियों को हराने के लिए डॉ. संजय कुमार निषाद ने रची साजिश-राष्ट्रीय कोषाध्यक्ष।
Image
महामहिम राष्ट्रपति महोदय ने सांसद विशम्भर प्रसाद निषाद जी की 17 जातियों के परिभाषित अनुसूचित जाति आरक्षण की मांग का लिया संज्ञान
Image
दबंगों द्वारा बेरहमी से की गई पिटाई से घायल निषाद महिलाओं को फतेहपुर जनपद में क्यों नहीं मिल रहा है न्याय
Image
फतेहपुर में निषाद महिलाओं को दंबगों द्वारा मारपीट कर घायल करने की घटना का संज्ञान लेते हुए सांसद विशम्भर प्रसाद निषाद जी ने मुख्यमंत्री को लिखा पत्र
Image
बहुत ही दुखद समाचार : हाथरस में प्रवक्ता तिलक सिंह कश्यप जी का कोरोना से हुआ निधन
Image