मजदूरों के प्रति लापरवाही को उजागर कर रही हैं रेलों का संचालन-मुकेश सहानी

एकलव्य मानव संदेश।
यह पूरी तरह से साफ है कि कोरोना काल में जारी अनप्लांड लॉकडाउन में सरकार ने मजदूरों और गरीबों के प्रति अपनी तमाम तरह की जिम्मेदारियों से नाता तोड़ लिया है। प्रवासी मजदूरों को वापस गृह राज्य पहुंचाने के मामले में सरकारें सिर्फ खानापूर्ति करती दीख रहीं हैं। पहले सरकार ने लापरवाही तथा संवेदनहीनता दिखाते हुए मजदूरों को सड़कों पर और रेलवे ट्रैक पर मौत से जूझने के लिए छोड़ दिया। अब सरकार द्वारा चलाए जा रहे श्रमिक ट्रेनों में भी मजदूर मौत से लड़ रहे हैं।



      प्रवासी मजदूरों को उनके गृह राज्य छोड़ने के लिए चलाई जा रही श्रमिक ट्रेनों का बुरा हाल है। ट्रेनें अपने गंतव्य को छोड़कर दूसरी जगह पहुंच जा रही है। ट्रेन में सुविधा तथा भोजन-पानी के अभाव में मजदूर और उनके परिवार के सदस्य ट्रेन में ही दम तोड़ रहे हैं। लगातार तेज होती गर्मी में भूख और प्यास से उनका दम छूट रहा है।
       कोरोना काल में सरकार की विफलता पूरी तरह से उजागर हो रही है। जिन वायदों के कारण जनता ने सरकार को चुना था, सरकार ने उन तमाम वायदों से पल्ला झाड़ लिया है। जिस जनता ने सरकार को चुना था, सरकार उसी जनता के साथ विश्वासघात कर रही है। यह कहना है वीआईपी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष मुकेश सहानी का।


Popular posts
पढ़ें और समझें : 25 जुलाई 2021 को कैसे भेजें निषाद, कश्यप, बिन्द समाज की पुकारू जातियों के परिभाषित एससी आरक्षण लागू कराने के लिए राष्ट्रपति जी को ज्ञापन
Image
पेट्रोल डीजल की बढ़ती कीमतों, बढ़ते स्विस बैंकों में भारतीयों के धन पर मोदी सरकार को राज्यसभा में घेरा विशम्भर प्रसाद निषाद ने
Image
मेरी शेरनी बेटी की हत्या करवाने वाली पार्टी बीजेपी के सहयोगी का पैसा नहीं चाहिए मुझे- मूला देवी
Image
आज अयाह शाह विधानसभा क्षेत्र में मा. विशम्भर प्रसाद निषाद जी का 59 वां जन्मदिन बड़ा कार्यक्रम करके मनाएंगे कार्यकर्ता
Image
पूर्व मंत्री मनोहर लाल जी की प्रतिमा के अनावरण के माध्यम से 2022 के चुनाव जीतने के लिए अखिलेश यादव ने किया चुनाव अभियान का श्रीगणेश
Image