मुजफ्फरपुर में तीन निषाद महिलाओं के बाल काटने के बाद मूत्र पिलाकर घुमाया गांव में

मुजफ्फरपुर, बिहार। मुजफ्फरपुर के डकरामा गाँव में बूटा सहनी की माँ, मौसी तथा घर की एक और महिला पर डायन होने का आरोप लगाकर उनके साथ की बहुत ही बड़ी अमानवता तथा बर्बरता की घटना को अंजाम देने की खबर मिली है, जो अत्यंत शर्मनाक है।
    तीन महिलाओं के बाल काटेने के बाद बुरी अवस्था में पूरे गांव में घुमाकर मूत्र और मल पीने को विवश किया गया। 
     वीआईपी पार्टी के मुजफ्फरपुर के वरिष्ठ पदाधिकारियों से राष्ट्रीय अध्यक्ष मुकेश सहानी ने बात की है करके पार्टी की एक जांच टीम भेजने का निर्णय लिने के साथ साथ स्थानीय प्रशासन से भी संपर्क करने की कोशिश है।
     सन ऑफ मल्लाह मुकेश सहानी ने कहा है कि समाज की महिलाओं के साथ हुए इस तरह के अमानवीय बर्ताव में शामिल दोषियों को कड़ी सजा दिलाई जाएगी।


Popular posts
बाँदा में हो रहे अवैध खनन और ओवरलोडिंग पर रोक लगाने के लिए राज्यसभा सांसद विशम्भर प्रसाद जी ने मुख्यमंत्री और राज्यपाल को लिखे पत्र
Image
केवट, मल्लाह, निषाद जाति को झारखंड राज्य की अनुसूचित जाति में शामिल करने के प्रस्ताव को हेमंत सोरेन की झारखंड सरकार ने दी मंजूरी
Image
प्रयागराज की धरती पर डॉ. संजय निषाद और भाजपा के दलालों पर फूटा निषादों का गुस्सा- खदेड़ा गांव से
Image
23 फरवरी को मुजफ्फरनगर में 11 बजे संवैधानिक आरक्षण संघर्ष मोर्चा की आरक्षण महा पंचायत में जरूर पहुंचे
Image
दर्दनाक: राजस्थान के पाली जिला में बंजारा विमुक्त घुमन्तु जनजाति के किसान को जिंदा जला दिया
Image