अज्ञात कारणों के चलते महिला पुलिसकर्मी ने लगाई फाँसी

बिधूना, औरैया, उत्तर प्रदेश, एकलव्य मानव संदेश रिपोर्टरसुधांशु की रिपोर्ट। अज्ञात कारणों के चलते महिला पुलिसकर्मी ने लगाई फाँसी। बिधूना कोतवाली में तैनात महिला कांस्टेबल शालू गिरी ने संदिग्ध परिस्थितियों में अपने कमरे में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। महिला कांस्टेबल शालू गिरी बागपत जिले की रहने वाली थी और उनकी तैनाती औरैया जिले के बिधूना कस्बे में थी। शालू गिरी बिधूना के मोहल्ला किशोरगंज में किराए पर रहती थी। बताया जाता है कि कोरोना लॉक डाउन के दौरान ही विगत माह अप्रैल में उनका विवाह भी हुआ था। हालांकि आत्महत्या का अभी कोई भी कारण पता नहीं चल सका है।
   महिला कांस्टेबल शालू गिरी की आत्महत्या की खबर से क्षेत्र में सनसनी फैल गयी। महिला कांस्टेबल की मौत को लेकर घटनास्थल पर पहुंच कर औरैया जिला के एसपी सुनीति सिंह और एएसपी कमलेश दीक्षित ने घटनास्थल का निरीक्षण किया। उसके बाद महिला कांस्टेबल के मृतक शरीर का पंचनामा भरकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही आत्महत्या के कारणों का पता चल सकेगा।


Popular posts
पैलानी खदान में टीला धंसने से 3 मजदूरों की मौत: विशम्भर प्रसाद निषाद ने 50-50 लाख के मुआवजे की मांग
Image
केवट, मल्लाह, निषाद जाति को झारखंड राज्य की अनुसूचित जाति में शामिल करने के प्रस्ताव को हेमंत सोरेन की झारखंड सरकार ने दी मंजूरी
Image
दर्दनाक: राजस्थान के पाली जिला में बंजारा विमुक्त घुमन्तु जनजाति के किसान को जिंदा जला दिया
Image
भाजपा की उल्टी गिनती शुरू: निषादों पर हुये प्रशासनिक अत्याचार के विरोध में निषाद कार्यकर्ताओं ने दिया सामूहिक रूप से त्यागपत्र
Image
बाँदा में हो रहे अवैध खनन और ओवरलोडिंग पर रोक लगाने के लिए राज्यसभा सांसद विशम्भर प्रसाद जी ने मुख्यमंत्री और राज्यपाल को लिखे पत्र
Image