बिधूना में पहला कोरोंना पॉजिटिव मिलने से मचा हड़कंप

बिधूना, औरैया, उत्तर प्रदेश, एकलव्य मानव संदेश रिपोर्टर सुधांशु की रिपोर्ट। बिधूना कस्बे में पहला कोराना केस सामने आया है। बताया जा रहा है के जिस व्यक्ति को कोराना हुआ है वह दिल्ली में रह कर मजदूरी करता था। लॉक डाउन के चलते काम धंधा बंद होने से युवक घर वापस आया था। युवक का एक जून को दिल्ली में सैंपल लिया गया था, किन्तु जांच रिपोर्ट आने से पूर्व ही तीन जून को युवक प्राइवेट बस के माध्यम से बिधूना वापस आ गया। बीमार होने के कारण वह यहां के एक निजी क्लीनिक में इलाज करवा रहा था। किन्तु इलाज के दौरान ही 5 मई को दिल्ली से चिकित्सकों के द्वारा फोन के माध्यम से उसके कोराना पॉजिटिव होने की जानकारी दी गई। जिसके तुरंत बाद युवक बिधूना सीएचसी पहुंचा और अपने कोराना पॉजिटिव होने की जानकारी डॉक्टरों को दी, जिससे अस्पताल प्रशासन में हड़कंप मच गया।युवक के कोराना पॉजिटिव होने की जानकारी मिलते ही उपजिलाधिकारी रशीद अली, पुलिस क्षेतराधिकारी मुकेश प्रताप सिंह, कोतवाल विनोद कुमार शुक्ला आदि चिकित्सकों की टीम के साथ युवक के घर पहुंचे और युवक को कोविड अस्पताल भेजा गया। युवक की पत्नी और बच्चे को भी अस्पताल जांच के लिए भेजा गया। तथा जिस निजी क्लीनिक में वह अपना इलाज करवा रहा था, वहाँ के डॉक्टर और उनके स्टाफ के सभी लोगो के सैंपल लेकर जांच के लिए भेज दिए गए हैं। जांच रिपोर्ट आने तक सभी को घर में रहने की सलाह दी गई है। इसके अलावा दुर्गा मंदिर से दिबियापुर रोड तक के मार्केट को अग्रिम आदेश तक बंद कर दिया गया है। इस तरह जिले में कोराना संक्रमित एक्टिव केस बढ़ कर सोलह हो गए है।



Popular posts
बाँदा में हो रहे अवैध खनन और ओवरलोडिंग पर रोक लगाने के लिए राज्यसभा सांसद विशम्भर प्रसाद जी ने मुख्यमंत्री और राज्यपाल को लिखे पत्र
Image
केवट, मल्लाह, निषाद जाति को झारखंड राज्य की अनुसूचित जाति में शामिल करने के प्रस्ताव को हेमंत सोरेन की झारखंड सरकार ने दी मंजूरी
Image
प्रयागराज की धरती पर डॉ. संजय निषाद और भाजपा के दलालों पर फूटा निषादों का गुस्सा- खदेड़ा गांव से
Image
23 फरवरी को मुजफ्फरनगर में 11 बजे संवैधानिक आरक्षण संघर्ष मोर्चा की आरक्षण महा पंचायत में जरूर पहुंचे
Image
दर्दनाक: राजस्थान के पाली जिला में बंजारा विमुक्त घुमन्तु जनजाति के किसान को जिंदा जला दिया
Image