लॉकडाउन के दौरान शुक्ला ने सुल्तानपुर में केवट की जमीन पर जबरदस्ती खड़ी की दीवार

कादीपुर, सुल्तानपुर, उत्तर प्रदेश (Kadipur, Sultanpur, Uttar Pradesh) एकलव्य मानव संदेश (Eklavya Mamav Sandesh) रिपोर्टर महावीर जे निषाद की रिपोर्ट। लॉकडाउन के दौरान शुक्ला ने सुल्तानपुर में केवट की जमीन पर जबरदस्ती खड़ी की दीवार। 



    सुल्तानपुर जनपद की कादीपुर तहसील के दोस्तपुर बभनिया कस्बा निवासी, चौथी केवट ने थाना दोस्तपुर में लिखित शिकायत में कहा है कि मेरी 3:30 बिस्सा जमीन, जिसकी लंबाई 145 फुट और चौड़ाई 40 फुट है को अजय शुक्ला हथियाना चाहता है।   



    दिनांक 15 अप्रैल 2020 को लॉकडाउन के दौरान अजय शुक्ला ने मेरी इस जमीन में जबरदस्ती 4 फुट ऊंचाई की दीवार खड़ी करने के लिए 5 मिस्त्री एवं मजदूर को काम पर लगाया  था।
   इस जमीन पर पहले से ही हमारे 12 खंबा खड़े थे जिनपर जमीन पाटी गई थी। जमीन पटाने वाले शेर बहादुर के लड़के ने 20000 रुपया में जेसीबी के द्वारा 2018 में खुदाई की गई थी और भागीरथी के द्वारा पटाई की गई थी।
   लॉकडाउन के दौरान पांच मिस्त्री और मजदूर के साथ अजय शुक्ला, सतीश शुक्ला, संजय शुक्ला और सुधीर शुक्ला ने रात में जमीन को घेरने का काम किया  था।
   जब हमें यह जानकारी हुई तो  थाना दोस्तपुर को मोबाइल नंबर 94544 04332 रिपोर्ट भेजी, जिसके बाद थाने से मौके वारदात पर पुलिस भेजी गई। जिस मोबाइल (नंबर 07985980195) से रिपोर्ट भेजी थी वह ओम प्रकाश के नाम से ट्रूकॉलर पर दर्ज है। घर पर हमारी माता जी के अलावा परिवार का कोई सदस्य उपस्थित नहीं था। माता जी के मना करने पर कब्जे कर रहे लोगों ने मेरी मां को मां बहन की गाली देकर धमकी दी और धक्का देकर गिरा दिया। मेरी मां रुदल मिस्त्री को बोली दीवार मत जोड़ो। मेने जिलाधिकारी महोदय जी को ईमेल मेल :dmsul@nic.in द्वारा सूचित भी किया और घटना से संबंधित फोटो भेजे गए साथ ही कॉल भी की गईं।


    एसडीएम कादीपुर महोदय को भी हमारे द्वारा जानकारी दी गई। जिसके बाद उन्होंने राम यज्ञ लेखपाल को भेजा और रिपोर्ट लगवाई कि काम गलत हो रहा है। इसके बाद भी जबरदस्ती अजय शुक्ला ने 4 फीट की दीवार खड़ी कर दी है। लेकिन पुलिस विभाग ने आज तक लॉकडाउन के नियमों का उल्लंघन करने वाले मजदूरों एवं मिस्त्री पर कोई कार्यवाही नहीं की है। 10 से 15 दिन होने के बाद और काम रुकने के आदेश के बावजूद भी काम चालू रखा और हमारे जमीन पर जो घास फूस थी उसे भी कटवा कर जबरदस्ती मिट्टी से पाट दिया गया। मेरी मां कब्जा रुकवाने के लिए वापिस गई तो 4 मिस्त्रियों ने उन्हें वापस कर दिया और उनके बेटे यानी मुझे (भागीरथी चौथी केवट को हाथ पैर तोड़ने की धमकी दी)। महोदय में मुंबई में लॉकडाउन के दौरान फंसा हुआ हूँ। लेकिन मेरे फोन काल करने के वावजूद मजदूरों और अजय शुक्ला पर कोई कार्यवाही नहीं की गई है। हमने पुलिस विभाग को कॉल की लेकिन पुलिस ने कब्जा जारी होने के बावजूद भी कहा कि काम नहीं हो रहा है और ऐसे कहकर मामला रफा-दफा कर दिया।      
     अब दिनांक 13 जून 2020 को हमने फिर से जमीन के पैमाइश और काम रुकवाने का प्रार्थना पत्र एसडीएम कादीपुर को दिया है, लेकिन अजय शुक्ला लगातार चोरी चुपके काम करा रहा है और हमारी जमीन अपनी जमीन बताने के साथ मारने की धमकी दे रहा है। आज अजय शुक्ला जमीन को अपने कब्जे में बता रहा है और उसने दीवार में से अपने घर की तरफ दरवाजा निकाल लिया है। 
       अतः श्रीमान जी पूर्व से पश्चिम 145 फुट और दक्षिण में दक्षिण से उत्तर 40 फुट की यह जमीन चौथी केवट के नाम दर्ज है। अतः थाना दोस्तपुर और एसडीएम कादीपुर, जिला सुल्तानपुर से निवेदन है की आप जल्द से जल्द मेरी जमीन की पैमाइश करवाएं और उस जमीन पर पैमाइश होने तक कोई काम ना होने दिया जाए साथ ही अजय शुक्ला पर कड़ी निगरानी रखी जाए क्योंकि वह आदेश का पालन नहीं कर रहा है। आदेश ना होने पर भी वह जबरदस्ती जमीन पर अपना काम करते जा रहा है। हम बार-बार जाकर काम रुकवाने की कोशिश कर रहे हैं तो, वह हमें बार-बार मारने की धमकी दे रहा है। हम मुंबई में फंसे हुए हैं अतः आपसे अनुरोध है कि तुरंत उस पर कोई एक्शन लें, वरना वह हमारे परिवार को क्षति पहुंचा सकता है।