प्रतापगढ़ में युवक की हत्या के बाद हुआ बवाल

प्रतापगढ़, उत्तर प्रदेश, एकलव्य मानव संदेश ब्यूरो नागेंद्र बिन्द की रिपोर्ट। प्रतापगढ़ जिले में 1 जून 2020 की देर रात युवक की हत्या को लेकर बवाल मच गया। जानकारी होने पर पहुंची पुलिस पर गांव के लोगों ने पथराव कर दिया और पुलिस की गाडिय़ों को आग के हवाले कर दिया। गांव में स्थिति तनावपूर्ण बनी हुई है।
    घटना फतनपुर थाना क्षेत्र के कहला गांव की है। जानकारी के मुताबिक कहला गांव के भुजैनी मजरे के रहने वाले रणविजय पटेल के बेटे अंबिका को पुलिस ने करीब माह भर पहले एक महिला सिपाही की तस्वीर सोशल मीडिया पर डालने के मामले में गिरफ्तार कर जेल भेजा था। कुछ दिन पहले वह जेल से छूटकर आया था। 
   सोमवार 1 जून की दोपहर अंबिका पटेल घर से निकला पर देर रात तक वापस नहीं आया। रात करीब साढ़े नौ बजे परिजन उसे ढूंढने निकले तो नहर के बगल स्थित स्कूल के पास बाग में अंबिका का अधजला शव पाया गया। आरोप है कि अंबिका को पेड़ से बांधकर जिंदा जला दिया गया था। इसकी जानकारी पुलिस को दी गयी तो पहले डायल 100 की गाड़ी फिर फतनपुर थानाध्यक्ष की गाड़ी पहुंची। इस बीच गांव के लोग एकत्र हो गये थे। ग्रामीणों ने पुलिस पर पथराव कर दिया। किसी तरह पुलिसकर्मी जान बचाकर भागे तो ग्रामीणों पुलिस के वाहन को आग के हवाले कर दिया।
   फतनपुर थानाध्यक्ष ने इसकी जानकारी पुलिस अधीक्षक को दी तो उन्होंने कई थाने की फोर्स गांव में भेजा। गांव में पीएसी के जवानों को तैनात कर दिया गया है। स्थिति तनावपूर्ण बनी हुई है।


Popular posts
पढ़ें और समझें : 25 जुलाई 2021 को कैसे भेजें निषाद, कश्यप, बिन्द समाज की पुकारू जातियों के परिभाषित एससी आरक्षण लागू कराने के लिए राष्ट्रपति जी को ज्ञापन
Image
पेट्रोल डीजल की बढ़ती कीमतों, बढ़ते स्विस बैंकों में भारतीयों के धन पर मोदी सरकार को राज्यसभा में घेरा विशम्भर प्रसाद निषाद ने
Image
मेरी शेरनी बेटी की हत्या करवाने वाली पार्टी बीजेपी के सहयोगी का पैसा नहीं चाहिए मुझे- मूला देवी
Image
आज अयाह शाह विधानसभा क्षेत्र में मा. विशम्भर प्रसाद निषाद जी का 59 वां जन्मदिन बड़ा कार्यक्रम करके मनाएंगे कार्यकर्ता
Image
पूर्व मंत्री मनोहर लाल जी की प्रतिमा के अनावरण के माध्यम से 2022 के चुनाव जीतने के लिए अखिलेश यादव ने किया चुनाव अभियान का श्रीगणेश
Image