आधी रात में टूटी पड़ी हाइटेंशन तार के चपेट में आने से पति पत्नी जिंदा जले

फतेहपुर, उत्तर प्रदेश। जनपद फतेहपुर के ग्राम नरौली गढ़ा में रात 12 बजे बिजली की लाइन गिरने से दो लोगों की जान चली गयी। मरने वालों का नाम बचनी निषाद और उसकी पत्नी हैं। बचनी की परचून की दुकान है, वह अपनी दुकान में रहता था। सोमवार रात में 12 बजे जब बिजली की लाइन गिरी और आग जलने लगी तब बचनी उठकर बरसाती हटाने लगा जिससे कि आग दुकान में न लगे। जैसे ही वह अंधेरे में आगे बढ़ा तो उसका पैर बिजली के तार पर पड़ गया और तड़फने लगा। उसको तड़फता देख पत्नी उसको छुटाने के लिए दौड़ी और वह भी करंट लगने से गिर गयी। पत्नी तो ज्यादा नहीं जली लेकिन बचनी का आधा सरीर जल गया। इस दर्दनाक हादसे में दोनों की मौत हो गई। मृतक दम्पति के दो बेटे हैं। छोटा बेटा घटना के समय वहीं पर था। लेकिन बच गया। 20 से 25 मिनट लगातार आग जलती रही। जब बिजली गई तब आग जलना बन्द हुआ। 
   हादसा बिजली विभाग की लापरवाही के कारण हुआ है। मृतकों के परिजनों को उचित मुआवजा दे सरकार और जिम्मेदार अधिकारियों के खिलाफ कड़ी कार्यवाही की जानी चाहिए।