बरारी में राशनकार्ड नहीं बनने से परेशानों ने किया आत्मदाह करने का ऐलान

बरारी, कटिहार, बिहार (Barari, Katihar, Bihar), एकलव्य मानव संदेश ( Eklavya Manav Sandesh) रिपोर्टर धीरज चौधरी की रिपोर्ट। कटिहार जनपद की बरारी विधानसभा क्षेत्रों में अभी भी ऐसे हजारों परिवार हैं जिसका अभी तक राशन कार्ड नहीं बनने से सरकार के लाभ से वंचित हैं। ऐसे लाखों लोग हैं जिनको सरकार की जन वितरण प्रणाली की बहुत ही ज्यादा जरूरत है, पर उनका राशन कार्ड अभी तक नहीं बना है। लोगों ने आज से नहीं बल्कि पिछले 10-15 साल पहले भी सरकारी लाभ के लिए अपना आवेदन जमा कराए थे परंतु अभी तक उनकी कोई सुनवाई नहीं हुई है।



      इसी क्रम में कटिहार जिले के बरारी प्रखंड के निवासी ने आज बीडीओ को एक ज्ञापन सौंपा। जिसमें साफ-साफ लिखा था अगर उनकी मांग पूरी नहीं हुई तो 21 अगस्त को वह आत्मदाह करेंगे। परेशान निरंजन झा बताते हैं कि उन्होंने 2011 में ही राशन कार्ड बनने को दिया था परंतु आज 9 वर्ष के बाद भी उनका राशन कार्ड नहीं बना है। उन्होंने आज पदाधिकारियों से भी बात की और सबको सूचना भी दी कि अगर 3 दिनों में उनका राशन कार्ड नहीं बना तो वह आगामी 21 अगस्त को प्रखंड मुख्यालय के सामने आत्मदाह करेंगे। उनके साथ साथ कई ऐसे लोग भी मौजूद थे जो राशन कार्ड से वंचित हैं। कई बार आवेदन भी दिए, कई बार जब पदाधिकारी से बात करने की कोशिश की गई, तो उन्हें सिर्फ दिलासा दिया जाती रही है। उनका समय नष्ट किया जा रहा है। और जिनको जन वितरण प्रणाली के लाभ की जरूरत नहीं है, उनका काम पहले हो जाता है। आखिर कब तक चलेगा यह सिलसिला।
  इस मौके पर तमाम लोग मौजूद रहे, जिन सबका राशन कार्ड नहीं बनने की ही समस्या थी। जिसमे निरंजन झा, पूर्वी बारी नगर निवासी सुनीता देवी, अमित कुमार मंडल पश्चिमी बारी नगर, मिथिलेश मंडल, पुष्पा देवी, जोश नारा खातून, मीना देवी, प्यारी खातून, नस्तारा खातून, खुशबू देवी, मुसर्रत परवीन आदि ऐसे हजारों घर ऐसे हैं जो सरकारी अनाज से वंचित हैं।
 मौके पर मौजूद समाजसेवी राजकिशोर यादव, जिछेंन्द्र नाथ जलंधर, दिनेश चौधरी, सिवपुजन पासवान, मौजूद रहे।



Popular posts
बाँदा में हो रहे अवैध खनन और ओवरलोडिंग पर रोक लगाने के लिए राज्यसभा सांसद विशम्भर प्रसाद जी ने मुख्यमंत्री और राज्यपाल को लिखे पत्र
Image
केवट, मल्लाह, निषाद जाति को झारखंड राज्य की अनुसूचित जाति में शामिल करने के प्रस्ताव को हेमंत सोरेन की झारखंड सरकार ने दी मंजूरी
Image
प्रयागराज की धरती पर डॉ. संजय निषाद और भाजपा के दलालों पर फूटा निषादों का गुस्सा- खदेड़ा गांव से
Image
दर्दनाक: राजस्थान के पाली जिला में बंजारा विमुक्त घुमन्तु जनजाति के किसान को जिंदा जला दिया
Image
23 फरवरी को मुजफ्फरनगर में 11 बजे संवैधानिक आरक्षण संघर्ष मोर्चा की आरक्षण महा पंचायत में जरूर पहुंचे
Image