जौनपुर में भूमि विवाद में दो सगे भाइयों सहित तीन की हत्या

खुटहन, जौनपुर, उत्तर प्रदेश, एकलव्य मानव संदेश के लिए सूबेदार नाविक की रिपोर्ट। जौनपुर जनपद के फिरोजपुर गांव निवासी रामचन्द्र पासवान और पड़ोसी राम खेलावन पासवान के बीच आबादी की जमीन को लेकर कई महीनों से विवाद चला आ रहा था। रविवार को इसी भूमि पर रामचन्द्र ने निर्माण कार्य शुरु कर दिया। जिसका राम खेलावन के पक्ष ने विरोध करना शुरू कर दिया। और आपस में जमकर मारपीट शुरू हो गई। दोनों तरफ से लाठी डंडा और धारदार घरेलू उपकरण निकाल एक दूसरे पर हमला कर दिए।
    एक पक्ष के रामचन्द्र, बैजनाथ, राजेश, मुकेश, अर्जुन, भीम, बिंदेश, इन्द्रेश और भाना देवी तथा दूसरे पक्ष के राम खेलावन, जियालाल, पप्पू, धर्मेन्द्र, निन्हू और केशव घायल हो गए। गंभीर रूप से घायल एक पक्ष के बैजनाथ (45) पुत्र बंशी तथा दूसरे पक्ष के रामखेलावन व इनका सगा छोटा भाई जियालाल (48) पुत्र गण पुद्दन की जिला चिकित्सालय में मौत हो गई।
   फिरोजपुर गांव में भूमि विवाद को लेकर हुई मारपीट में तीन की मौत के मामले में शाम लगभग सात बजे आईजी बिजय सिंह मीणा ने मौके पर पहुंच घटना के बाद बारे में जानकारी ली। मृतक रामचंद्र की पत्नी से घटना के बिषय में बातचीत के बाद पुलिस की ढीली कानून व्यवस्था पर नाराजगी जाहिर की।
   फिरोजपुर गांव में महीनो से चले आ रहे भूमि विवाद को लेकर रविवार को दो पक्ष लाठी, डंडा, कुल्हाड़ी लेकर आपस में भिड़ गए और जमकर हुई मारपीट में पंद्रह लोग घायल हो गए। सभी घायलों को इलाज के लिए सीएससी लाया गया, जहाँ दो सगे भाइयों सहित तीन की हालत गंभीर देख उन्हें जिला चिकित्सालय भेज दिया गया। जिला अस्पताल में चिकित्सको ने तीनों को मृत घोषित कर दिया। तीन मौतों की सूचना मिलते ही प्रशासन के हाथ पाव फूल गये। गांव में कई थानों की पुलिस फोर्स पहुंच गई। एसडीएम राजेश वर्मा व क्षेत्राधिकारी जितेन्द्र दूबे पुलिस टीम के साथ गांव में ही डट गए।
   आईजी द्वारा घटना स्थल का निरीक्षण करने के बाद, तिहरे हत्याकांड को लेकर पुलिस अधीक्षक ने थाना खुटहन के थाना इन्चार्ज सहित चार पुलिस कर्मियों को निलंबित कर दिया है।