कानपुर के रेलबाजार इलाके में निषाद पति-पत्नी की बेरहमी से की गई हत्या

कानपुर, उत्तर प्रदेश। कानपुर महानगर में स्थित रेलबाजार थानाक्षेत्र में रविवार की आधी रात को पति-पत्नी की बेरहमी से हत्या की खबर है। इस घटना से क्षेत्र में सनसनी फैलने पर मिली सूचना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने छानबीन शुरू की।
     पति का सिर पत्थर से कुचलकर और पत्नी की गला दबाकर हत्या की जानकारी मिली है। इस वारदात में पत्नी के कपड़े और घर का सामान अस्त व्यस्त मिले हैं। 
   पुलिस ने पूछताछ के बाद सामने आए अलग अलग बिंदुओं के अधरब पर जांच प्रारंभ कर दी है।
    बस्ती केरला निवासी रामदीन निषाद रेलवे में कॉन्ट्रैक्ट पर पेंटिंग का काम करते हैं और रेलवे स्टेडियम में पवेलियन के नीचे बने क्वार्टर में वर्षों से रह रहे हैं। इनके परिवार में पत्नी कुसुम, चार बेटे विष्णु, सूरज, शिवा, नंदी व दो बेटियां प्रीति व नंदिनी हैं। रेलवे ग्राउंड स्थिर क्वार्टर में उनका बेटा विष्णु व बहू शालू भी साथ रह रहे थे और परिवार के बाकी सदस्य श्यामनगर के रामपुरम में किराए के मकान में रहते हैं।
    23 वर्षीय विष्णु भी पेंटिंग का काम करता था जिसकी दो साल पहले 22 वर्षीय शालू से शादी हुई थी। अपने पहले पति को छोड़कर अपने मायके मुंशीपुरवा बाबूपुरवा में रह रही शालू ने विष्णु से दूसरी शादी की थी।
   मृतक विष्णु के पिता के अनुसार रविवार रात करीब 9 बजे वह कमरे पर पहुंचे तो बेटा-बहू बाहर ही बैठे थे। बहू शालू ने खाना दिया, जिसे खाने के बाद वे अपने कमरे में सोने चले गये। रात करीब 11:30 बजे आवाज दी तो बेटे ने पानी लाकर उसे पिलाया। इसके बाद क्वार्टर के बाहर मैदान में चटाई बिछाकर सोने चले गए। सोमवार सुबह 7 बजे रामदीन की नींद खुली तो कमरे का सामान बिखरा पड़ा था और बेटे-बहू का रक्तरंजित शव पड़े देख कर घबरा गए और पुलिस को फोन पर सूचना दी। एसएसपी / डीआईजी डॉ. प्रीतिंदर सिंह ने पत्रकारों को बताया कि कमरे का सामान बिखरा होने से लूटपाट की आशंका जताई जा रही है। मृतकों के मोबाइल फोन को कब्जे में लेकर जांच की जा रही है। शालू की पहली शादी के बिंदु पर भी जांच कराई जा रही है, जल्द वारदात का राजफाश होगा।