सुनियोजित तरीके से महिलाओं को आगे कर ग्वालियर में नवल माझी हुआ प्राण घातक हमला

ग्वालियर, मध्यप्रदेश, एकलव्य मानव संदेश ब्यूरो रिपोर्ट। 26 अगस्त को सुबह 9 बजे आसमानी माता मंदिर पर, मंदिर समिति के अध्यक्ष नवल मांझी जब दर्शन करने गए तो वहाँ कुछ लोगों ने घेरकर घातक हथियारों से जानलेवा हमला किया। जिसमें नवल जी घायल हो गए। नवल मांझी के सिर व हाथों में गम्भीर चोटें आईं हैं और गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती हैं।
   मध्य प्रदेश के वरिष्ठ पत्रकार और नेता अमर नौरिया जी ने घायल नवल मांझी के परिजनों से फोन पर बात कर हाल जाना और हमला करने वालों के खिलाफ सख्त कार्यवाही की मांग की।
   ग्वालियर शहर के आसमानी माता मंदिर को रास्ता नहीं था। मैन रोड से मंदिर तक के लिए रास्ता अपराधी लोग नहीं दे रहे थे। चार-पांच वर्ष पहले माझी समाज के लोगों ने सीधा रास्ता बना लिया था। यहां इन अपराधियों के रेत के फड इस रास्ते के सामने डाले जाते थे, इसलिए इनको परेशानी हुई। उसी समय से पहले भी झगड़ा कर चुके हैं। रास्ते विवाद का मैंन कारण है।


Popular posts
पैलानी खदान में टीला धंसने से 3 मजदूरों की मौत: विशम्भर प्रसाद निषाद ने 50-50 लाख के मुआवजे की मांग
Image
केवट, मल्लाह, निषाद जाति को झारखंड राज्य की अनुसूचित जाति में शामिल करने के प्रस्ताव को हेमंत सोरेन की झारखंड सरकार ने दी मंजूरी
Image
दर्दनाक: राजस्थान के पाली जिला में बंजारा विमुक्त घुमन्तु जनजाति के किसान को जिंदा जला दिया
Image
भाजपा की उल्टी गिनती शुरू: निषादों पर हुये प्रशासनिक अत्याचार के विरोध में निषाद कार्यकर्ताओं ने दिया सामूहिक रूप से त्यागपत्र
Image
बाँदा में हो रहे अवैध खनन और ओवरलोडिंग पर रोक लगाने के लिए राज्यसभा सांसद विशम्भर प्रसाद जी ने मुख्यमंत्री और राज्यपाल को लिखे पत्र
Image