आजादी के 74 साल बाद भी सड़क नहीं पहुंची निषादों के गांव तक

बाह, आगरा, उत्तर प्रदेश, एकलव्य मानव संदेश ब्यूरो रिपोर्ट। बाह तहसील के दर्जनों गांवों में आजादी के 74 साल पार होने के बाद भी आज तक सड़क का निर्माण नहीं किया जा सका है, जबकि गांव के लोग कई बार इसके लिए विधायक, सांसद से अपील कर चुके हैं, व मतदान का भी बहिष्कार कर अपना विरोध तक जता चुके हैं। लेकिन विडम्बना यह है कि किसी ने अभी तक इस तरफ ध्यान नहीं दिया है। दुर्भाग्य पूर्ण बात ये है कि इन सभी गांवों में 100 प्रतिशत आबादी निषाद समाज की है। निषाद समाज के तहसील अध्यक्ष सुखदेव वर्मा ने बताया कि सड़कों के अभाव में गांव विकास के रास्ते पर नहीं जा सके हैं। बारिश के मौसम में लोगों का बाजार से महीनों तक आवागमन ठप्प हो जाता है। कई बार सड़क के अभाव में गांव की प्रसूता महिलाओं व मरीजों को अपनी जान तक गवानी पड़ी है। जिन गांवों में रास्ते का अभाव है उन गांवों में मुख्यतः चम्बल घाटी में गुढ़ा, झिंनपुरा, सुंसार, क्योरि का पुरा, भूपाल पूरा, टोका, उमरेठा, खेलावली है।
इलाके के अनेकों लोगों ने सरकार से सड़क बनवाने के लिए आग्रह किया है।



Popular posts
पढ़ें और समझें : 25 जुलाई 2021 को कैसे भेजें निषाद, कश्यप, बिन्द समाज की पुकारू जातियों के परिभाषित एससी आरक्षण लागू कराने के लिए राष्ट्रपति जी को ज्ञापन
Image
पेट्रोल डीजल की बढ़ती कीमतों, बढ़ते स्विस बैंकों में भारतीयों के धन पर मोदी सरकार को राज्यसभा में घेरा विशम्भर प्रसाद निषाद ने
Image
मेरी शेरनी बेटी की हत्या करवाने वाली पार्टी बीजेपी के सहयोगी का पैसा नहीं चाहिए मुझे- मूला देवी
Image
आज अयाह शाह विधानसभा क्षेत्र में मा. विशम्भर प्रसाद निषाद जी का 59 वां जन्मदिन बड़ा कार्यक्रम करके मनाएंगे कार्यकर्ता
Image
पूर्व मंत्री मनोहर लाल जी की प्रतिमा के अनावरण के माध्यम से 2022 के चुनाव जीतने के लिए अखिलेश यादव ने किया चुनाव अभियान का श्रीगणेश
Image