बहुत ही दुःखद समाचार, वरिष्ठ समाज सेवी अरुण कुमार तुरैहा जी का आकस्मिक निधन

रामपुर, उत्तर प्रदेश, एकलव्य मानव संदेश ब्यूरो रिपोर्ट, 29 सितम्बर 2020। बहुत ही दुःखद समाचार, वरिष्ठ समाज सेवी अरुण कुमार तुरैहा जी (रामपुर, उत्तर प्रदेश) का आकस्मिक निधन, निषाद वंश के लिए अपूरणीय क्षति, एकलव्य मानव संदेश परिवार की ओर से भावभीनी श्रद्धांजलि।


  श्री अरुण कुमार तुरैहा जी के निधन पर राज्यसभा सांसद श्री विशम्बर प्रसाद निषाद जी ने गहरा दुःख व्यक्त किया है और अरुण की के आकस्मिक निधन को व्यक्तिगत क्षति बताया है।



    उत्तर प्रदेश के रामपुर निवासी, निषाद मछुआरा समाज के वरिष्ठ, तेज तर्रार नेता एवं समाजसेवी अरुण कुमार तुरैहा जी का कल बीती 28 सितम्बर की रात नोयडा के यथार्थ सुपर स्पेशलिटी हॉस्पिटल में आकस्मिक स्वर्गवास हो गया। अरुण कुमार जी ने 17 जातियों के आरक्षण की आवाज इसी महीने मानसून सत्र के दौरान उठाने के लिए राज्यसभा सांसद श्री विशम्बर प्रसाद निषाद जी की पहल पर 30 अगस्त और 13 सितम्बर को दो बार सफलता पूर्वक ऑनलाइन मीटिंग के माध्यम से समाज के उत्तर प्रदेश और अन्य प्रांतों के समाज सेवियों, राजनीतिज्ञों और नौकरशाहों को एक मंच पर अपनी बात रखकर परिभाषित आरक्षण की मांग के लिए एक जबरदस्त माहौल तैयार किया था, जिसकी बदौलत 14 सितम्बर को उत्तर प्रदेश के अधिकांश जिलों में विभिन्न संगठनों ने जिलाधिकारियों के माध्यम से भारत के महामहीम राष्ट्रपति महोदय को ज्ञापन दिये गए और राज्यसभा में सांसद श्री विशम्बर प्रसाद निषाद जी द्वारा मुद्दा उठाया गया था।


Popular posts
पैलानी खदान में टीला धंसने से 3 मजदूरों की मौत: विशम्भर प्रसाद निषाद ने 50-50 लाख के मुआवजे की मांग
Image
केवट, मल्लाह, निषाद जाति को झारखंड राज्य की अनुसूचित जाति में शामिल करने के प्रस्ताव को हेमंत सोरेन की झारखंड सरकार ने दी मंजूरी
Image
दर्दनाक: राजस्थान के पाली जिला में बंजारा विमुक्त घुमन्तु जनजाति के किसान को जिंदा जला दिया
Image
भाजपा की उल्टी गिनती शुरू: निषादों पर हुये प्रशासनिक अत्याचार के विरोध में निषाद कार्यकर्ताओं ने दिया सामूहिक रूप से त्यागपत्र
Image
बाँदा में हो रहे अवैध खनन और ओवरलोडिंग पर रोक लगाने के लिए राज्यसभा सांसद विशम्भर प्रसाद जी ने मुख्यमंत्री और राज्यपाल को लिखे पत्र
Image