कटिहार में पूर्वी बारीनगर के महादलित टोला के सैकड़ों घरों में घुसा गंगा और बाढ़ का पानी

बारीनगर, कटिहार, बिहार, एकलव्य मानव संदेश रिपोर्टर धीरज चौधरी की रिपोर्ट, 28 सितम्बर 2020। पूर्वी बारीनगर के महादलित टोला वार्ड-2,3 के सैकड़ों घरों में गंगा के तरसुईया पानी व बारिश का पानी घुसा,लोग परेशान।




  बरारी-प्रखंड के पूर्वी बारीनगर के वार्ड  2 एवं 3 महादलित टोला सोती में करीब 40 दिनों से गंगा का तरसुईया पानी व बरसात का पानी सैकड़ो घरों में घुस गया हैं। जिससे की लोग सड़क व पानी में रहने को मजबूर हैं। लोगों ने प्रशासन से रहने व खाने की व्यवस्था करने की मांग की हैं। बता दे कि  महादलित टोला सोती में विगत 40 दिनों पूर्व गंगा का तरसुईया पानी एवं बरसात का पानी से जलजमाव की समस्या उत्पन्न हो गई हैं। जिसके कारण पानी धीरे- धीरे फैल कर घरों में घुस गया। जिससे ग्रामीणों को काफी परेशानियो का सामना करना पड़ रहा है।
   ग्रामीण मोसमात पनिया,गीता देवी,झुनिया देवी,मोसमात रेशमा,बाबादाय,भरत ऋषि,देवचरण ऋषि,गेनू ऋषि सहित वार्ड सदस्य टुनटुन मिर्धा आदि ने बताया कि घर मे पानी घुस जाने के कारण हम सभी सड़क पर व पानी में रहने को मजबूर हैं।जिसके कारण हमेशा भय बना रहता हैं पानी में हमेशा सांप निकलता है।ग्रामीणों ने बताया कि यहाँ एक मात्र उपाय सामुदायिक भवन हैं जहाँ की सभी गांव वासी एक जगह रह रहे हैं। वही इस गर्मी एवं बरसात में काफी समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है। उन्होंने बताया कि 6 सप्ताह से अधिक समय गुजरने के बाद भी सरकारी सुविधा नदारद है। राशन पानी तक का दिक्कत हो गया है। इसकी सूचना हम लोगों ने स्थानीय प्रशासन को दिया हैं। परन्तु अब तक कुछ नहीं हुआ है। ग्रामीणों ने बताया कि करीब एक सौ घर महादलित हैं, सभी के घरों में पानी आ गया हैं, सबसे बड़ी समस्या शौचालय की बनी हुई हैं।
सरकारी मुआवजे की हुई मांग-
इस बाबत पूर्वी बाड़ीनगर पंचायत के मुखिया प्रतिनिधि उमेश सिंह निषाद एवं वार्ड सदस्य टुनटुन मिर्धा,सुभाष मंडल  ने बताया कि मामले की जानकारी सीओ अमरेन्द्र कुमार को दिया गया हैं। उन्होंने जिला प्रशासन से मुआवजे की जल्द से जल्द उपलब्ध कराने की मांग की है। उन्होंने सभी पीड़ित परिवार को  जीआर सूची में जोड़ने, तिरपाल, प्लास्टिक व भोजन उपलब्ध कराने की तत्काल मांग की है। सीओ अमरेन्द्र कुमार ने इस संबंध में बताया कि मुखिया प्रतिनिधि उमेश सिंह निषाद  ने इस संबंध में मुझे जानकारी दी है।  विभाग से निर्देश मिलने पर कारवाही की जाएगी। उन्होंने कहा की महादलित टोला लो लेंड हैं जिस कारण गंगा का तरसुईया पानी व बारिश का पानी आ जाता हैं।