मथुरा हुई शर्मशार, नाबालिग बच्ची से बलात्कार के बाद हत्या

मथुरा, उत्तर प्रदेश, एकलव्य मानव संदेश रिपोर्ट। मथुरा जनपद में मासूम 9 वर्षीय बच्ची से दुष्कर्म के बाद हत्या के आरोपी की तलाश में पुलिस ने दिल्ली तक पोस्टर लगाये हैं। आरोपी के बारे में सही सूचना देने पर 25 हजार रुपये का इनाम भी घोषित किया गया है। पुलिस ने आरोपी के रिश्तेदारों सहित एक दर्जन से अधिक लोगों को पूँछ तांछ के उठा कर उनसे पूछताछ के आधार पर दबिश दे रही है। इसके बावजूद अभी तक आरोपी के बारे में कोई सुराग नहीं मिला है। बनवारी के बारे में पुलिस को पूछताछ में पता लगा है कि उसने ने एक वर्ष पहले शादीशुदा महिला से कोर्ट मैरिज की थी। महिला करीब नौ वर्ष की अपनी लड़की भी साथ लाई थी। बाद में बनवारी की करतूतों को देखकर उसने अपनी पुत्री को एक रिश्तेदार के घर छोड़ दिया था। कुछ दिन बाद वह भी घर छोड़ गई थी। 


  मथुरा जिले के थाना जमुनापार इलाके में सोमवार की रात एक बच्ची को अगवा कर दुष्कर्म के बाद हत्या कर दी गई। परिजनों ने रात को ही पुलिस को सूचना दे दी। सुबह होने पर बच्ची का शव नजदीक के गांव के ही खेत में पड़ा मिला। घटना के बाद ग्रामीणों में आक्रोश फैल गया। नौ वर्षीय बच्ची सोमवार शाम को दुकान पर गई थी। उसके साथ छह वर्षीय एक अन्य बच्ची भी थी। जब काफी देर तक वह वापस नहीं आई तो परिजनों ने खोजबीन की। परिजनों को पता लगा कि गांव का ही आपराधिक प्रवृत्ति का ट्रक चालक बनवारी पुत्र नक्कू दो बच्चियों को अपने साथ बाइक पर बैठाकर ले गया है। इस घटना में पुलिस की लापरवाही पर गुस्साए ग्रामीणों ने क्षेत्राधिकारी को घेरकर उनकी गाड़ी की हवा निकाल दी और पुलिस से जमकर नोकझोंक हुई। ट्रक चालक बनबारी के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया गया है।
     मथुरा के थाना यमुनापार क्षेत्र में नौ वर्षीय बच्ची से दुष्कर्म और हत्या के आरोपी ट्रक चालक बनवारी की तलाश में पुलिस ने बस स्टैंड, रेलवे स्टेशन और अन्य सार्वजनिक स्थानों पर पोस्टर लगा कर उसके अपराध की जानकारी दी गई है।
   पुलिस ने आरोपी बनबारी से संबंध रखने वाले करीब एक दर्जन ऐसे लोगों को पुलिस ने पूछताछ के लिए उठाया है, जिनसे वह वारदात से पूर्व मिला भी था। उनसे बनवारी के ठिकानों की जानकारी ली जा रही है। पिछले 24 घंटों से पुलिस की पांच टीमें दौड़ रही हैं, लेकिन अभी सफलता हाथ नहीं लग पाई है।


Popular posts
बाँदा में हो रहे अवैध खनन और ओवरलोडिंग पर रोक लगाने के लिए राज्यसभा सांसद विशम्भर प्रसाद जी ने मुख्यमंत्री और राज्यपाल को लिखे पत्र
Image
केवट, मल्लाह, निषाद जाति को झारखंड राज्य की अनुसूचित जाति में शामिल करने के प्रस्ताव को हेमंत सोरेन की झारखंड सरकार ने दी मंजूरी
Image
दर्दनाक: राजस्थान के पाली जिला में बंजारा विमुक्त घुमन्तु जनजाति के किसान को जिंदा जला दिया
Image
भाजपा की उल्टी गिनती शुरू: निषादों पर हुये प्रशासनिक अत्याचार के विरोध में निषाद कार्यकर्ताओं ने दिया सामूहिक रूप से त्यागपत्र
Image
23 फरवरी को मुजफ्फरनगर में 11 बजे संवैधानिक आरक्षण संघर्ष मोर्चा की आरक्षण महा पंचायत में जरूर पहुंचे
Image