U P में जंगलराज- राम की अयोध्या में सपा नेता राजेश निषाद की मंदिर में घुसकर गोली मारकर हत्या

अयोध्या, उत्तर प्रदेश, एकलव्य मानव संदेश ब्यूरो रिपोर्ट। उत्तर प्रदेश में जंगलराज कायम है। अयोध्या धाम के विद्या कुण्ड में माँझा बरहटा कनीगंज निवासी समाजवादी पार्टी के नेता व पूर्व सभासद राजेश निषाद को बदमासों द्वारा गोली मारे जाने की सूचना मिली है। राजेश निषाद की उपचार के दौरान हुई मौत। हत्यारे फरार। पुलिस मामले को रफादफ़ा करने में जुटी।


     राजेश निषाद को सीने में तीन गोलियां मारी गईं और गंभीर हालत में जिला अस्पताल भेजा गया, जहां से उसे लखनऊ रेफर कर दिया गया। अयोध्या के एसएसपी दीपक कुमार ने बताया, कलवार मंदिर के सामने ही मोटरसाइकिल सवार तीन युवक आए और आपस में विवाद के बाद उन्होंने राजेश निषाद को गोली मार दी। इनमें से एक आरोपी पंकज को गिरफ्तार कर लिया गया है। तीन और आरोपी अभी पुलिस की पकड़ से दूर हैं। मुख्य आरोपी मोहित तिवारी और नवीन पांडे, चिंटू अभी फरार है।
     राजेश निषाद एक दवंग नेता थे और निषादों एवं कमजोरों के हक के लिए हमेशा आगे आते थे। इसी से अयोध्या के ब्राह्मणों में उनका खौफ रहता था। और उनको फंसाने के लिए हर तरह के हथकंडों को यहाँ की ब्राह्मण लॉबी सक्रिय रहती थी। इसी कारण उनको कई मुकद्दमों में जानबूझकर फंसाया जाता रहा।  कलवार मंदिर पर ब्राह्मण का कब्जा था जिसको राजेश निषाद  ने कुछ हद तक सीमित कर दिया था और इसीको लेकर विवाद भी चल रहा था।  
   पता चला है कि शनिवार को लगभग 8 बजे के आसपास जब राजेश कलवार मंदिर की छत पर बैठे थे तो उसी समय मोटरसाइकिल सवार तीन युवक वहां पहुंचे, जिनसे राजेश की कुछ देर तक बात होती रही। इसी बातचीत के दौरान आपस में विवाद की नौबत आ गई। इसके बाद मोटरसाइकिल सवार तीनों युवकों ने राजेश के सीने पर एक के बाद एक ताबड़तोड़ तीन गोलियां मार दी। इसके आनन-फानन में उसे श्रीराम अस्पताल ले जाया गया, जहां से उसे लखनऊ ट्रामा सेंटर रेफर कर दिया गया।


    मोहित तिवारी ने अपने साथियों नवीन पांडे, चिंटू के साथ मिलकर इस जघन्य वारदात को अंजाम देने की खबर मिली है। बताया जा रहा है कलवार मन्दिर विवाद के चलते राजेश निषाद को गोली मारी गई है। गोली की तड़तड़ाहट से गुज उठी अयोध्या। जैसी ही राजेश निषाद के समर्थकों को गोलीकांड की खबर मिली भारी संख्या श्री राम अस्पताल पहुंच गए। गोली मारकर अभियुक्त फरार हो गए हैं। पुलिस घटना की जांच में जुटी हुई है।



राजेश निषाद का फ़ाइल फ़ोटो



घटना स्थल से बरामद कारतूस का खोखा