वीर शहीद अखिलेश निषाद के पिताजी आत्माराम निषाद ने भी 17 जातियों को परिभाषित करने के लिए दिया ज्ञापन

इटावा, उत्तर प्रदेश (Etawah, Uttar Pradesh), एकलव्य मानव संदेश (Eklavya Manav Sandesh) ब्यूरो रिपोर्ट, 16 सितम्बर 2020। आज इटावा जिलाधिकारी के माध्यम से निषाद आरक्षण के लिए 7 जून 2015 को गोरखपुर के कसरबल में अपनी जान वलिदान करने वाले वीर शहीद अखिलेश निषाद के पिताजी आत्माराम निषाद और वीर शहीद अखिलेश निषाद के साथ आंदोलन में मौजूद रहे पंकज निषाद और उनके ही गांव के जोगिंदर निषाद ने निषाद मछुआरों सहित 17 जातियों को उनकी मूल जाती में परिभाषित कर आरक्षण देने के लिए महामहिम राष्ट्रपति महोदय को ज्ञापन भेजा।