बरारी (कटिहार) में ग्रामीणों ने पकड़ा मदरसे के MDM का बिकने जा रहा चावल

बरारी, कटिहार, बिहार (Barari, Katihar, Bihar), एकलव्य मानव संदेश रिपोर्टर धीरज चौधरी की रिपोर्ट। कटिहार जनपद में मदरसा राहमनियाँ मदरसातुल बनात जन्मघुटटू सिक्कट के एमडीएम के 7 बोरा चाबल बेचने को लेजाते हुए पकड़े ग्रामीणों ने।


पूरी जानकारी के दी गई लिंकः को किलिक करके वीडियो देखें-


 



   20 अक्टूबर को मदरसा रहमानियां मदरसातुल बनात जन्मघुटटु सिक्कट के एमडीएम के 7 बोरा चावल को टेम्पू से ले जाते हुए ग्रामीणों ने पकड़कर बरारी थाना को सौंपा। परन्तु अब तक मदरसा के प्रधान शिक्षक अबुल कलाम अंसारी के ऊपर विभागीय अधिकारियों के द्वारा कोई कारवाही नहीं होने पर ग्रामीणों में शिक्षा विभाग के अधिकारियों के प्रति रोष व्याप्त हैं। ग्रामीणों ने कहा कि अगर एक सप्ताह के अंदर उक्त मदरसा के शिक्षक के ऊपर कोई करवाही नहीं होती हैं तो हम सभी ग्रामीण, प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी एवं एमओ के खिलाफ जिला पदाधिकारी को आवेदन सौंपेंगे।


     ग्रामीण अख्तर अंसारी, मो शहाबुद्दीन अंसारी, इब्राहिम अंसारी आदि ने बताया कि 20 अक्टूबर को दोपहर करीब 2 बजे दिन में अबुल कलाम अंसारी द्वारा टेम्पू संख्या बीआर 11 टी 3550 पर उक्त मदरसा का 7 बोरा चावल लोड कर बेचने के उद्देश्य से बाजार ले जा रहा था, ग्रामीणों के सहयोग से उक्त चावल को टेम्पो सहित पकड़कर आवश्यक कारवाही हेतु बरारी थाना को सुपुर्द किया गया था, परन्तु अब तक प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी के द्वारा उक्त मदरसा के प्रधान शिक्षक पर कोई कारवाही नहीं कि गई, जिससे कि उक्त मदरसा के शिक्षक के द्वारा पुनः दूसरी खेप मदरसा के चावल को बेचा गया।


  इस इस संदर्भ में प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी के द्वारा एक पत्र जारी कर प्रखंड साधनसेवी द्वारा जांच कराई गई। 20 अक्टूबर को मदरसा रहमानियां मदरसातुल बनात जन्मघुटटु सिक्कट में ग्रामीणों द्वारा पकड़े गए चावल से संबंधित जांच करने का आदेश जारी करते हुए प्रखंड साधन सेवी संजय कुमार पासवान को जिम्मा सौंपा गया। प्रखंड साधनसेवी के द्वारा की गई जांच में पाया कि उक्त मदरसा का चावल स्टॉक पंजी. एवं वितरण पंजी. में 16 अक्टूबर को कुल 35 बोरी चावल का उठान किया गया था। जिसमें से 27 बोरी चावल का वितरण किया जा चुका है तथा शेष 8 बोरी चावल मदरसा के अंदर रखा हुआ है। स्टॉक पंजी. से मिलान करने पर सही पाया गया।


Popular posts
पैलानी खदान में टीला धंसने से 3 मजदूरों की मौत: विशम्भर प्रसाद निषाद ने 50-50 लाख के मुआवजे की मांग
Image
केवट, मल्लाह, निषाद जाति को झारखंड राज्य की अनुसूचित जाति में शामिल करने के प्रस्ताव को हेमंत सोरेन की झारखंड सरकार ने दी मंजूरी
Image
दर्दनाक: राजस्थान के पाली जिला में बंजारा विमुक्त घुमन्तु जनजाति के किसान को जिंदा जला दिया
Image
भाजपा की उल्टी गिनती शुरू: निषादों पर हुये प्रशासनिक अत्याचार के विरोध में निषाद कार्यकर्ताओं ने दिया सामूहिक रूप से त्यागपत्र
Image
बाँदा में हो रहे अवैध खनन और ओवरलोडिंग पर रोक लगाने के लिए राज्यसभा सांसद विशम्भर प्रसाद जी ने मुख्यमंत्री और राज्यपाल को लिखे पत्र
Image