वन विभाग द्वारा नरसिंहपुर के गरीब भू-स्वामियों की जमीन पर कब्जे के विरोध में शुरू होगा अनिश्चितकालीन धरना

नरसिंहपुर, मध्यप्रदेश, एकलव्य मानव संदेश के लिए अमर नौरिया जी की रिपोर्ट। शासन द्वारा 1972-73 व 76 -77 में पट्टे पर दी गई भूमि के गरीब भू- स्वामियों की भूमि पर वनविभाग द्वारा जबरन नापजोख कर तार फेंसिंग करने और उन्हें कृषि कार्य करने से रोकने के खिलाफ - अनिश्चितकालीन धरने की मांगे हैं -
 1- दिनांक 26.10.2020 को वनकर्मियों द्वारा किसानों को उनकी भूमि पर बुबाई करने से रोकने और उन्हें थाने में बन्द कराने की धमकी देने, दिनांक 29.10.2020 को वन अधिकारियों से बातचीत करने गये ग्रामीणों से अभद्रता व गाली गलौच करने वाले वनकर्मियों पर कार्यवाही की जावे।



 2- गरीबों की कृषि भूमि पर बगैर कोई सूचना दिये किये गये नापजोख के बाद उनकी कृषि भूमि पर की गई तार फेंसिंग को हटाया जाये ।
 3- शासन द्वारा गरीबों को कृषि हेतु दी गई भूमि अगर वनविभाग को हस्तांतरित की गई है तो उक्त खसरा नम्बरों को वन विभाग की भूमि होने सम्बन्धी सक्षम अधिकारी के आदेश की जानकारी उपलब्ध कराई जावे।
    उक्त 3 सूत्रीय मांगों को लेकर कार्यालय वनमण्डाधिकारी, नरसिंहपुर के सामने धरमपुरी के ग्रामीण 2 नवम्बर 2020 से अनिश्चितकालीन धरने पर बैठेंगे।