कानपुर में पिंटू निषाद की मौत से साम्प्रदायिक तनाव

कानपुर, उत्तर-प्रदेश। कानपुर नगर के वाजिदपुर में 16 नवम्बर 2020 को बवाल हो गया। कानपुर महानगर के वाजिदपुर में मामूली विवाद पर दो समुदायों में हिंसक झड़प हो गयी, जिसमें एक युवक पिंटू निषाद की मौत हो गयी। इस घटना से आसपास के क्षेत्र में साम्प्रदायिक तनाव बढ़ जाने पर अतिरिक्त पुलिस बल को तैनात किया गया है। घटना पर खुद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ नजर बनाए हुए हैं।
    कानपुर में हुई इस घटना का मूल कारण पानी के छींटे पड़ने को लेकर दो समुदाय आमने-सामने आ गए और दोनों के बीच जमकर मारपीट हुई। एक समुदाय की तरफ से कुछ लोगों ने पथराव किया। दूसरे समुदाय का एक युवक गंभीर रूप से घायल हो गया और उसकी मौत हो गई। मृतक का नाम पिंटू निषाद बताया गया है। घटना के बाद इलाके में तनाव बढ़ गया है जिसकी वजह से अतिरिक्त पुलिस की तैनानी करनी पड़ी है।
   कानपुर शहर के वाजिदपुर निवासी टेनरी कर्मी श्रीराम निषाद का बेटा पिंटू निषाद 25 चप्पल बनाने का काम करता था। प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार रविवार देर रात वह अपने बड़े भाई दीपक और साथी संदीप के साथ जा रहा था। तभी एक गुमटी के पास पानी के पाउच से छींटे पड़ने को लेकर अमान और उसके साथियों से विवाद हो गया। इसे लेकर दोनों पक्षों में मारपीट हो गई। स्थानीय लोगों के बीच-बचाव करने पर मामला शांत हो गया।
लेकिन पिंटू की मौत की खबर के बाद क्षेत्र में तनाव की स्थिति बनी हुई है। मृतक के परिजनों ने शव रखकर सड़क पर जाम लगा दिया है। मौके पर एसएसपी सहित कई अधिकारी पहुंच गए। एसएसपी ने इस मामले में लापरवाही करने के पर जाजमऊ चौकी इंचार्ज अनुराग सिंह और एक सिपाही को लाइन हाजिर कर दिया है।
अधिकारियों ने ताबड़तोड़ दबिश देकर सात आराेपियों को हिरासत में लिया है। वर्षीय पिंटू निषाद टेनरी में काम करता था। रविवार रात को वह अपने बड़े भाई दीपक और दोस्त संदीप के साथ कहीं जा रहा था तभी रास्ते में उन्होंने पानी का पाउच पीने के लिए खरीदा था। इसी दौरान उन लोगों के पाउच से पानी की कुछ छीटें इलाके के स्थानीय युवक पर पड़ गईं, इसी बात को लेकर अमान और उसके साथी तीनों से भिड़ गए और इस पथराव में पिंटू गंभीर रूप से घायल हो गया और  हैलट अस्पताल में पहुंचते ही डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।
    मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने युवक की मौत पर शोक व्यक्त कर उसके परिवार को पांच लाख रुपये आर्थिक सहायता देने का ऐलान किया है। और आरोपियों पर एनएसए के तहत कार्रवाई करने का आदेश दिया है।


Popular posts
आज संसद में विशम्भर प्रसाद निषाद जी ने फिर उठाया परिभाषित SC आरक्षण का मुद्दा : सदन नहीं चलने के कारण नहीं उठा सके आज
Image
विशम्भर प्रसाद निषाद जी द्वारा पाक जेलों में बन्द भारतीय मछुआरों के बारे में पूछे गए सवाल का जबाब 6 माह बाद लिखित में दिया मंत्री ने
Image
आज फिर विशम्भर प्रसाद निषाद जी का SC प्रमाण पत्र से सम्वन्धित सवाल राज्यसभा में हंगामे की भेंट चढ़ गया
Image
25 जुलाई को वीरांगना फूलन देवी शहादत दिवस पर उत्तर प्रदेश के हज़ारों गांव से निषाद बिन्द कश्यप समाज ने भेजे परिभाषित आरक्षण लागू कराने के लिए महामहिम राष्ट्रपति जी को ऑनलाइन ज्ञापन
Image
पूरी जानकारी : कैसे भेजें 25 जुलाई 2021 को निषाद, कश्यप, बिन्द समाज की पुकारू जातियों के परिभाषित एससी आरक्षण लागू कराने के लिए राष्ट्रपति जी को ज्ञापन
Image